Nobel Prize 2023: साहित्य में नोबेल पुरस्कार की हुई घोषणा, जॉन फॉसे को मिला अवॉर्ड

Oct 05, 2023

Nobel Prize 2023: साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार 2023 की घोषणा कर दी गई है. साहित्य के लिए नॉर्वेजियन लेखक जॉन फॉसे को यह अवॉर्ड दिया गया है.

Nobel Prize 2023: साहित्य का नोबेल पुरस्कार 2023 की घोषणा कर दी गई है. यह पुरस्कार नॉर्वेजियन लेखक जॉन फॉसे को उनके अभिनव नाटकों और गद्य के लिए दिया गया है. इस वर्ष का साहित्य पुरस्कार जीतने वाले लेखक जॉन फॉसे उपन्यासों को अपने विशेष शैली में लिखा है, जिसे 'फॉसे मिनिमलिज्म' के नाम से जाना जाता है, जो उनके दूसरे उपन्यास 'स्टेंग्ड गिटार' (1985) में देखा जा सकता है.

नोबेल पुरस्कार अकादमी ने फॉसे के नॉर्वेजियन नाइनोर्स्क में लिखे गए कार्यों को सम्मानित किया, जिसमें कई नाटक, उपन्यास, कविता संग्रह, निबंध, बच्चों की किताबें और अनुवाद शामिल हैं.

दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित साहित्यिक पुरस्कार

बता दें कि इस पुरस्कार के रूप में 10 मिलियन स्वीडिश क्रोना ($915,000) की राशि पुरस्कार जीतने वाले को दी जाती है. इसके साथ ही यह दुनिया का सबसे प्रतिष्ठित साहित्यिक पुरस्कार माना जाता है. साहित्य में नोबेल पुरस्कार 1901 से 2023 के बीच 120 नोबेल पुरस्कार विजेताओं को 116 बार प्रदान किया गया है.

अकादमी ने कहा कि फॉसे आज दुनिया में सबसे अधिक प्रदर्शन करने वाले नाटककारों में से एक हैं, लेकिन वह अपने गद्य के लिए भी तेजी से पहचाने जाने लगे हैं.

कई नामों पर थी चर्चा 

सभी नोबेल पुरस्कारों के लिए नामांकन और विचार-विमर्श को गोपनीय रखा जाता है, लेकिन पुरस्कार से पहले सट्टेबाजी साइटों ने फॉसे, चीनी कथा लेखक कैन ज़ू और केन्याई लेखक न्गुगो वा थियोंगो को उच्च संभावनाएं दीं. सलमान रुश्दी और थॉमस पिंचन का नाम भी सट्टेबाजों के बीच चर्चा में था. 

जॉन फॉसे ने दिया बयान

साहित्य में नोबेल पुरस्कार के विजेता जॉन फॉसे एक कवि भी हैं. नोबेल सम्मान मिलने पर जॉन फॉसे ने बयान देते हुए कहा कि "मैं अभिभूत हूं, और कुछ हद तक डरा हुआ हूं. मैं इसे साहित्य के लिए एक पुरस्कार के रूप में देखता हूं जिसका सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य बिना किसी अन्य विचार के साहित्य होना है.

आपकी राय !

uniform civil code से कैसे होगा बीजेपी का फायदा ?

मौसम