आपका वंदन है अभिनंदन

Mar 04, 2019

आपका वंदन है अभिनंदन

उद्योग विहार (मार्च-2019) नई दिल्ली। पाकिस्तान में 60 घंटे बिताने के बाद भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने वाघा बॉर्डर के रास्ते अपने मादरे वतन भारत की सरजमीं पर कदम रखा। अभिनंदन को पाकिस्तान ने अटारी-वाघा बॉर्डर पर अभिनंदन को शुक्रवार रात करीब 9. 15 बजे भारत को सौंपा। इस दौरान अभिनंदन के चेहरे पर तेज और गंभीरता थी। गौरतलब है कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान 27 फरवरी को सुबह 10 बजे के करीब जम्मू-कश्मीर में भारतीय सैन्य ठिकानों पर हमला करने आए पाकिस्तानी जेट फाइटर्स को अपने मिग-21 बाइसन लड़ाकू विमान से खदेड़ते हुए पाक अधिकृत कश्मीर (च्वज्ञ) में चले गए। उन्होंने एक पाकिस्तानी एफ-16 फाइटर जेट को मार भी गिराया। लेकिन इस दौरान उनका मिग-21 बाइसन भी दुश्मनों के निशाने पर आ गया। अभिनंदन अपने मिग-21 बाइसन से सफलता पूर्व इजेक्ट तो कर गए लेकिन उनका पैराशूट पीओके में लैंड हुआ और उन्हें पाकिस्तान की सेना ने अपने कब्जे में ले लिया।इस पूरे घटनाक्रम दस बिंदुओं में......1. पुलवामा में 14 फरवरी, 2019 को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन ‘जैश-ए-मोहम्मद’ के एक फिदायीन आतंकी ने विस्फोटकों से लदी अपनी गाड़ी सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स की बससे टकरा दी।

यह भी पढ़े -

श्रम विभाग के अधिकारियों को कारखानों एवं प्रतिष्ठानों के निरीक्षण के लिए श्रमायुक्त की अनुमति से अब पूरी छूट, जानने के लिए लिंक पे क्लिक करे http://uvindianews.com/news/labor-department-officials-are-now-entitled-for-inspection-of-factories-and-establishments-with-the-permission-of-the-laborer

जिसमें 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए। 2. इस हमले के तुरंत बाद मौलाना अजहर मसूद द्वारा संचालित संगठन ‘जैश-ए-मोहम्मद’ ने इस आतंकी वारदात की जिम्मेदारी ली। हमले को अंजाम देने वाले फिदायीन आतंकी की पहचान जम्मू-कश्मीर के रहने वाले 20 वर्षीय आदिल अहमद डार के रूप में की गई। 3. पुलवामा हमले के बाद पूरे भारत में शोक की लहर दौड़ गई। देश भर में पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को भरोसा दिलाया कि 40 शहीद जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा और उनके खून की एक-एक बूंद का बदला लिया जाएगा। 4. पुलवामा आतंकी हमले के 100 घंटे के भीतर भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर में मौजूद ‘जैश-ए-मोहम्मद’ की टॉप लीडरशिप को मौत के घाट उतार दिया। सेना ने कुल तीन जैश लीडर्स को मारा जिसमें पुलवामा आतंकी हमले का मुख्य साजिशकर्ता गाजी राशिद उर्फ कामरान भी शामिल था। 5. देश अभी 40 जवानों के शहीद होने का गम ही मना रहा था कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश आतंकियों के खिलाफ इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों के चार और जवान शहीद हो गए। पुलवामा जिले के पिंगलिना में सुरक्षाबलों ने देर रात को ऑपरेशन चलाया, जिसका मकसद था गाजी राशिद को पकड़ना। सुरक्षाबल अपने इस मिशन में कामयाब रहे और गाजी को मार गिराया। 6. इसके बाद भारत ने पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने की सफल कोशिश की। अमेरिका, फ्रांस, रूस, इजरायल और यूनाइटेड किंगडम सहित दुनिया के 40 बड़े देशों ने पुलवामा आतंकी हमले की निंदा करते हुए पाकिस्तान से उसकी सरजमीं पर पल रहे आंतकियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा। 7. पुलवामा आतंकी हमले के बाद से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण्, वित्त मंत्री अरुण जेटली और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल की उपस्थिति में लगातार ‘कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्योरिटी’ की कई दौर की बैठकें लीं। जिसके बाद भारत की सभी अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर हाइ अलर्ट घोषित किया गया। 8. केंद्र सरकार ने 24 फरवरी को जम्मू-कश्मीर में 10,000 अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती का फैसला लिया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सार्वजनिक सभा में देश के लोगों से कहा, ‘जो आग आपके दिल में है, वही आग मेरे दिल में भी है।’ उन्होंने देश को लगातार भरोसा दिलाया कि भारत की सुरक्षा में अपनी जान न्योछावर करने वाले वीर जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। 9. इसके बाद आया 26 फरवरी का वह दिन जिसका सभी भारतीयों को बेसब्री से इंतजार था। भारतीय वायुसेना के 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के 80 किलोमीटर अंदर घुसकर खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट स्थित ‘जैश-ए-मोहम्मद’ के सबसे बड़े आतंकी कैम्प पर लगभग 1000 किलो बम गिराए। भारतीय वायुसेना के विमानों ने पीओके स्थित मुजफ्फराबाद सेक्टर और चकोटी में भी बमवर्षा की। 10. इसके अगले दिन यानी 27 फरवरी को सुबह 10 बजे के करीब पाकिस्तान की वायुसेना के विमानों ने एलओसी से लगे भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाना चाहा। लेकिन भारतीय वायुसेना की मुस्तैदी ने दुश्मन देश के नापाक मंसूबों पर पानी फेर दिया। इस दौरान विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान पाकिस्तानी जेट फाइटर्स को खदेड़ते हुए दुश्मन देश के एयरस्पेस में चले गए। उन्होंने पाकिस्तान के एक एफ-16 फाइटर जेट को मार भी गिराया। लेकिन उनका मिग-21 बाइसन फाइटर जेट भी दुश्मन देश का निशाना बना गया। वह इजेक्ट करते हुए पीओके में लैंड हुए। विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान सेना ने गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़े -

ईपीएस में न्यूनतम पेंशन दोगुनी करने का विचार,जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे http://uvindianews.com/news/ideas-for-doubling-the-minimum-pension-in-eps

आपकी राय !

क्या जम्मू कश्मीर के निवासी धारा 370 और 35 A के हटने के बाद अपने को भारत का अविभाज्य अंग मान रहे हैं ?

मौसम