पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ छेड़ा जोरदार अभियान, बिना गोली चलाए किया साइलेंट अटैक

Mar 04, 2019

पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ छेड़ा जोरदार अभियान, बिना गोली चलाए किया साइलेंट अटैक

नई दिल्ली। पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले में भारत ने अपने 40 जवानों को खो दिया था। इस हमले के बाद से पाकिस्तान को विश्व पटल पर अलग-थलग करने के लिए भारत ने एक ओर जहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अभियान छेड़ दिया है, वहीं दूसरी ओर कई सख्त कदम उठाते हुए आर्थिक रूप से उसकी कमर तोड़ने के भी कई इंतजाम किए। भारत के इस साइलेंट अटैक के बाद पाकिस्तान की हालत खराब होना शुरू हो गई है। एक और जहां उसके लिए दुनिया को मुंह दिखाना मुश्किल हो रहा है, वहीं दूसरी ओर भारत से सामान आयात बंद होने की वजह से वहां सब्जियों के दाम भी आसमान छूने लगे हैं।

यह भी पढ़े -

आर्थिक आधार पर दस फीसदी आरक्षण : केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में संविधान संशोधन को सही ठहराया,जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे http://uvindianews.com/news/ten-per-cent-reservation-on-economic-basis-center-upheld-constitution-amendment-to-supreme-court

पाकिस्तान पर भारत का साइलेंट अटैक 1- भारत ने वापस लिया एमएफएन (मोस्ट फेवर्ड नेशन) का दर्जा भारत ने पाकिस्तान को 1996 में मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा दिया था। जिसके चलते वो अबतक बिना सीमा शुल्क के भारत को सामान निर्यात करता आ रहा था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। 2- अब पाकिस्तान नहीं जाएगा भारत के हिस्से का पानी केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा, अपने हिस्से का पानी पाक नहीं जाने देंगे, कश्मीर और पंजाब में सप्लाई करेंगे। छह नदियों के पानी में से 20 प्रतिशत पानी पर हमारा हक, अबतक हम अपने हिस्से का 95 प्रतिशत इस्तेमाल कर रहे थे, 5 प्रतिशत पाकिस्तान जा रहा था। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। गडकरी के मताबिक, हम पूर्व की नदियों से पानी मोड़कर इसे जम्मू-कश्मीर और पंजाब में सप्लाई करेंगे। 3- पाकिस्तान से आने वाले सामान पर लगा दिया 200 प्रतिशत टैक्स पिछले साल भारत ने पाकिस्तान से 13724 करोड़ रुपए के सामान का आयात किया था। टैक्स लगने के बाद उस पर बड़ी मार पड़ेगी। 4- पुलवामा अटैक के मास्टरमाइंड गाजी मारा गया सीआरपीएफ के काफिले पर हमले के चार दिन बाद ही भारतीय सुरक्षाबलों ने इस हमले के मास्टरमाइंड गाजी राशिद उर्फ कामरान को मौत के घाट उतार दिया। हमले के 100 घंटे के भीतर ने सेना ने इस मोस्टवांटेड आतंकी को उसके किए की सजा दे दी। इस मुठभेड़ में गाजी के अलावा जैश-ए-मोहम्मद का एक और आतंकी हिलाल भी मारा गया। 5- हुर्रियत लीडर्स की सुरक्षा वापस ली गई हमले के बाद जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने पाकिस्तान परस्त 18 अलगाववादियों और 155 नेताओं को दी गई सुरक्षा हटा ली।

यह भी पढ़े -

खुशखबरी! नौकरी बदलने पर अपने आप होगा EPF ट्रांसफर, EPFO कर रहा तैयारी,जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे http://uvindianews.com/news/good-news-epf-transfer-epfo-preparement

जिनकी सुरक्षा घटाई गई है, उनमें मीरवाइज उमर फारुक, अब्दुल गनी बट, हाशिम कुरैशी, बिलाल लोन, फजल हक कुरैशी, एसएएस गिलानी, आगा सैयद मौसवी, मौलवी अब्बास अंसारी, यासीन मलिक, सलीम गिलानी जैसे अलगाववादी नेता शामिल हैं।6- बंद हो गई श्रीनगर-मुजफ्फराबाद बस सेवा पुलवामा हमले के बाद सरकार ने श्रीनगर और पाकिस्घ्तान के कब्जे वाले कश्घ्मीर के मुजफ्फराबाद के बीच चलने वाली बस सेवा श्कारवां-ए-अमनश् को भी रद्द कर दिया। इसके साथ ही जम्मू क्षेत्र के पुंछ और पीओके के रावलाकोट के बीच सीमापार बस सेवा भी रद्द कर दी गई। 7- हाफिज सईद के दो आतंकी संगठनों पर लग गया बैन पाकिस्तान ने पांच महीने बाद एकबार फिर हाफिज सईद के दो संगठनों जमात-उद-दावा (जेयूडी) और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) पर पाबंदी लगा दी है। पुलवामा हमले के बाद भारत के साथ बढ़े तनाव को घटाने और फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की बैठक में कार्रवाई सेबचने के लिए पाक ने तीसरी बार ये पाबंदी लगाई है। 8- निर्यात बंद करने से व्यापारियों को हो रहा नुकसान, सब्जियों के दाम पहुंचे आसमान पर - भारतीय किसानों के पाकिस्तान को टमाटर और बाकी सब्जियां निर्यात नहीं करने के फैसले के बाद वहां इन चीजों के दाम आसमान छूने लगे हैं। लाहौर में टमाटर की कीमत 180 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई है।

यह भी पढ़े -

भारत के दबाव से चरमराई पाक की अर्थव्यवस्था,जानने के लिए लिंक पे क्लिक करे http://uvindianews.com/news/the-economy-of-pakistan-waxed-under-pressure-from-indias-pressure

- पाकिस्तान से आयात पर 200 प्रतिशत सीमा शुल्क लगाए जाने के बाद भारतीय आयातकों ने पाकिस्तान के सीमेंट निर्यातकों से सीमेंट की डिलीवरी लेने से इनकार कर दिया है। साथ ही सीमेंट के कंटेनर वापस बुलवाने के लिए कहा है। भारत अबतक पाकिस्तान से सालाना 7 से 8 करोड़ डॉलर (500-572 करोड़ रुपए) की सीमेंट खरीदता रहा है। भारत की ओर से वापस किए गए सीमेंट के कंटेनर फिलहाल कराची, कोलंबो और दुबई पोर्ट पर खड़े हैं। बता दें कि भारत जहां पाकिस्तान को टमाटर, गोबी, चीनी, चाय, ऑयल केक, पेट्रोलियम ऑयल, कॉटन, टायर, रबड़ समेत 137 वस्घ्तुओं का निर्यात करता है। वहीं पाकिस्तान से वो ड्राइ फ्रूट्स, फल, फ्रेबिक कॉटन, साइक्लिक हाइड्रोकॉर्बन, पेट्रोलियम गैस, पोर्टलैंड सीमेंट, कॉपर वेस्ट और स्क्रैप, कॉटन यॉर्न जैसे 264 प्रमुख उत्पादों का आयात करता है।

यह भी पढ़े -

सरकार का 6 करोड़ पीएफ सब्सक्राइबर्स को तोहफा, ईपीएफ पर ब्याज दर 0.10 प्रतिशत बढ़ाई,जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे http://uvindianews.com/news/government-gives-60-million-pf-subscribers-gifts-epf-interest-rate-increases-by-0-10

आपकी राय !

क्या जम्मू कश्मीर के निवासी धारा 370 और 35 A के हटने के बाद अपने को भारत का अविभाज्य अंग मान रहे हैं ?

मौसम