IRCTC के IPO में किया है आवदेन? पहले ही दिन कमा सकते हैं 8000 रुपये

Oct 09, 2019

IRCTC के IPO में किया है आवदेन? पहले ही दिन कमा सकते हैं 8000 रुपये

इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) का IPO हाल के वर्षों का सबसे सफल आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) साबित हो सकता है. इस आईपीओ में निवेश करने वाले लोगों का अगर तकदीर ने साथ दिया तो पहले ही दिन कम से कम 8,000 रुपये की कमाई हो सकती है. असल में इसके आईपीओ प्रति शेयर 200 रुपये के प्रीमियम यानी निर्धारित कीमत से ज्यादा पर खुलने की उम्मीद की जा रही है.

पहली बार दिखा इतना उत्साह

इसके लिए बहुत ज्यादा आवेदन होने की वजह से शेयरों का आवंटन लॉटरी से होगा. यह किसी सार्वजनिक कंपनी का सबसे सफल आईपीओ साबित हो सकता है. पहली बार किसी आईपीओ के लिए बाजार में इतना उत्साह देखा जा रहा है. इस आईपीओ के लिए आवेदन करने वालों को शेयरों का आवंटन होता है या नहीं इसका निर्णय 9 और 10 अक्टूबर को होगा. इसकी शेयर एक्सचेंजों पर लिस्ट‍िंग 14 अक्टूबर को हो सकती है.

200 रुपये के प्रीमियम की उम्मीद

इस आईपीओ के लिए कम से कम आवेदन 40 शेयरों के एक लॉट का हुआ है. इसके आवेदन में प्राइस बैंड 315 से 320 रुपये की रखी गई थी. आईपीओ के लिए आवेदन 30 सितंबर से 04 अक्टूबर तक हुआ है. जानकार यह मान रहे हैं कि आईआरसीटीसी के शेयरों की लिस्ट‍िंग 520 से 525 रुपये प्रति शेयर हो सकती है. यह 320 रुपये के हायर बैंड से 64 फीसदी ज्यादा प्रीमियम कीमत है. यानी अगर किसी ने एक लॉट भी आवेदन किया है और उसको शेयर अलॉट हो जाते हैं, तो लिस्ट‍िंग के दिन ही उसे कम से कम 8,000 रुपये की कमाई हो सकती है.

यह भी पढ़े-

हो सकता है कि हर आपराधिक मामले में सज़ा देना ज़रूरी नहीं हो इलाहाबाद हाईकोर्ट, जानने के लिए लिंक पे क्लिक करे http://uvindianews.com/news/it-may-not-be-necessary-to-punish-in-every-criminal-case-allahabad-high-court

IPO हुआ 112 गुना सब्सक्राइब

एसपी तुलस्यान डॉट कॉम की सीनियर रिसर्च एनालिस्ट गीतांजलि केडिया ने एक आर्थिक अखबार से कहा, 'ग्रे मार्केट में करीब 200 रुपये का प्रीमियम चल रहा है, जिससे इसके कारोबार का महत्व पता चलता है.' आईआरसीटीसी के आईपीओ की रजिस्ट्रार अलंकित असाइनेमेंट्स है, जो शेयरों के आवंटन और रिफंड प्रक्रिया का संचालन करेगी. IRCTC का आईपीओ 112 गुना सब्सक्राइब हुआ है यानी जरूरत से इतने गुना ज्यादा शेयरों के लिए आवेदन किया गया है. हालांकि, खुदरा निवेशकों वाला हिस्सा सिर्फ 15 गुना सब्सक्राइब हुआ है.

645 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य

आईपीओ के द्वारा 2.01 करोड़ शेयरों के लिए आवेदन मांगे गए थे, लेकिन आवेदन 225.39 करोड़ शेयरों का हो चुका है. इससे कंपनी ने 645 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है. आईआरसीटीसी में सरकार की अभी हिस्सेदारी 100 फीसदी है और इस आईपीओ के द्वारा सरकार अपनी हिस्सेदारी 12.6 फीसदी कम करेगी. शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने के बाद कंपनी का बाजार पूंजीकरण 5,120 करोड़ रुपये का हो सकता है.

क्या है IRCTC का कारोबार

गौरतलब है कि IRCTC की स्थापना 27 सितंबर, 1999 को हुई थी और इसे 1 मई, 2008 को भारत सरकार से मिनी रत्न कंपनी का दर्जा मिला था. यह रेलवे की खान-पान सेवा के अलावा ई-कैटरिंग, एग्जीक्यूटिव लॉन्ज, बजट होटल जैसे सेगमेंट में भी कारोबार करती है. हालांकि, इसका कारोबार मुख्यत: भारतीय रेल पर ही निर्भर है, और रेल मंत्रालय द्वारा किसी नीतिगत बदलाव का इसके मुनाफे पर असर होता है.

यह भी पढ़े-

अमेजॉन, फ्लिपकार्ट पर टूट पड़े लोग, 6 दिन में बेचा 18 हजार करोड़ रुपये का सामान, जानने के लिए लिंक पे क्लिक करे http://uvindianews.com/news/people-who-broke-on-amazon-flipkart-sold-goods-worth-18-thousand-crores-in-6-days

आपकी राय !

क्या जम्मू कश्मीर के निवासी धारा 370 और 35 A के हटने के बाद अपने को भारत का अविभाज्य अंग मान रहे हैं ?

मौसम